'सर्च' का इस्तेमाल शुरू करना: डेवलपर के लिए गाइड

अपनी सामग्री को आसानी से खोजने लायक बनाना बहुत ज़रूरी है. इससे आपकी सामग्री उन लोगों तक पहुंच पाती है जो उसे देखना चाहते हैं. इसे सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन (एसईओ) कहते हैं. इससे आपकी सामग्री में दिलचस्पी रखने वाले ज़्यादा से ज़्यादा लोग आपकी साइट पर आ सकते हैं. अगर 'Google सर्च' को आपके पेज की जानकारी समझने में परेशानी हो रही है, तो शायद आप साइट पर ट्रैफ़िक लाने वाले अहम स्रोत का फ़ायदा नहीं उठा रहे हैं.

इस गाइड की मदद से डेवलपर समझ सकते हैं कि वे ऐसा क्या करें जिससे उनकी साइट 'Google सर्च' के साथ ठीक से काम करे. इस गाइड में बताई गई बातों के अलावा, यह भी देख लें कि आपकी साइट सुरक्षित हो, तेज़ हो, उसे सभी लोग एक्सेस कर पाएं, और वह सभी डिवाइस पर काम करे.

यह पता करना कि Google को आपकी साइट कैसी दिखती है

शुरू करने के लिए, अपनी साइट को मोबाइल के हिसाब से जाँच में जाँचकर देखें कि Googlebot को आपकी साइट कैसी दिखती है. Googlebot, Google का बॉट है जो वेब क्रॉल करता है. यह नए और अपडेट किए गए पेजों को खोजकर Google इंडेक्स में जोड़ता है. इस प्रक्रिया के बारे में ज़्यादा जानने के लिए, 'Google सर्च' के काम करने का तरीका पर जाएं.

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि Googlebot चीज़ों को हमेशा वैसे नहीं देखता जैसी वे आपके ब्राउज़र में दिखाई देती हैं. नीचे दिए गए उदाहरण में, Googlebot को पेज पर इमेज मौजूद होने का पता नहीं चलता है. ऐसा होता है क्योंकि पेज पर JavaScript की ऐसी सुविधा का इस्तेमाल होता है जो Googlebot पर काम नहीं करती.

इस्तेमाल करने वाले

इस्तेमाल करने वाले को यह पेज ऐसा दिखाई देता है. इस्तेमाल करने वाले ब्राउज़र में इमेज और टेक्स्ट देख सकते हैं.

वेबसाइट, जो बिल्लियों की छह अलग-अलग इमेज दिखाती है. वेबसाइट का शीर्षक Cute cat content chronicles है.

Googlebot

Googlebot को पेज ऐसा दिखाई देता है. Googlebot को यह नहीं पता चलता कि पेज पर इमेज भी हैं. ऐसा होता है क्योंकि पेज पर JavaScript की ऐसी सुविधा का इस्तेमाल होता है जो Googlebot पर काम नहीं करती.

वेबसाइट, जो वेबसाइट का शीर्षक (Cute cat content chronicles) दिखाती है. पेज पर बिल्ली के बच्चे की इमेज नहीं हैं.

एक यूआरएल से दूसरे यूआरएल पर जाने के लिए, Googlebot लिंक, साइटमैप और रीडायरेक्ट का इस्तेमाल करता है. Googlebot हर यूआरएल को इस तरह क्रॉल करता है जैसे वह आपकी साइट का पहला या इकलौता यूआरएल क्रॉल कर रहा हो. अगर आप चाहते हैं कि Googlebot आपकी साइट के हर यूआरएल को ढूंढ सके, तो:

  • मान्य यूआरएल के साथ <a href> का इस्तेमाल करें. देख लें कि आपकी साइट के सभी पेजों पर ऐसे लिंक से पहुंचा जा सके जो दूसरे पेज पर मौजूद है. ये ऐसा पेज होना चाहिए जिसे Google पहले ही ढूंढ सकता हो. रेफ़रिंग लिंक में पेज की सामग्री के लिए टेक्स्ट शामिल होना चाहिए. इसके अलावा, इमेज के लिए इसमें ऑल्ट एट्रिब्यूट शामिल होना चाहिए जो टारगेट पेज की सामग्री से मेल खाता हो. क्रॉल किए जाने लायक लिंक का मतलब है ऐसे एट्रिब्यूट जिनमें href टैग हो.
  • Googlebot आपकी साइट को बेहतर तरीके से क्रॉल कर सके, इसके लिए साइटमैप बनाएं और उसे सबमिट करें. साइटमैप ऐसी फ़ाइल होती है जिसमें आप अपनी साइट के पेजों, वीडियो और दूसरी फ़ाइलों की जानकारी देते हैं. साथ ही, इसमें आप यह भी बताते हैं कि एक फ़ाइल दूसरी से कैसे जुड़ी है.
  • सिर्फ़ एक एचटीएमएल पेज वाले JavaScript ऐप्लिकेशन के लिए ध्यान रखें कि हर स्क्रीन या सामग्री के लिए यूआरएल ज़रूर हो.

इस बात की जाँच करना कि आप JavaScript का इस्तेमाल कैसे कर रहे हैं

Googlebot, JavaScript पर काम तो करता है, लेकिन इस स्थिति में आपको अपने पेज और ऐप्लिकेशन डिज़ाइन करते समय इनके अंतर और सीमाओं का ध्यान रखना होगा. साथ ही, यह देखना होगा कि क्रॉलर आपकी सामग्री को एक्सेस और रेंडर कैसे करते हैं. JavaScript SEO की बुनियादी बातें या 'सर्च' से जुड़ी JavaScript समस्याओं के बारे में ज़्यादा जानें.

Googlebot, क्रॉल, रेंडर, और इंडेक्स करते समय JavaScript को किस तरह हैंडल करता है, इस बारे में ज़्यादा जानने के लिए आगे दिया गया वीडियो देखें.

सामग्री में बदलाव के बाद Google को इसकी जानकारी देना

अगर आप चाहते हैं कि Google को आपके नए या अपडेट किए गए पेज जल्दी मिलें, तो:

अगर आपको अपने पेज इंडेक्स कराने में अब भी समस्या आ रही है, तो गड़बड़ियों का पता लगाने के लिए अपना सर्वर लॉग देखें.

पेज पर मौजूद शब्दों का ध्यान रखना

Googlebot सिर्फ़ टेक्स्ट के रूप में दिखाई देने वाली सामग्री ढूंढ पाता है. उदाहरण के लिए, Googlebot को वीडियो में इस्तेमाल किया गया टेक्स्ट नहीं दिखता. अगर आप चाहते हैं कि 'Google सर्च' इस बात को समझे कि आपका पेज किस बारे में है, तो:

  • देख लें कि आपकी विज़ुअल सामग्री की जानकारी टेक्स्ट के रूप में दी गई हो. उदाहरण के लिए, उत्पाद की श्रेणी के ऐसे पेज को सही नहीं माना जाएगा जिसमें शर्ट की इमेज की सूची दी गई हो, लेकिन किसी इमेज की जानकारी टेक्स्ट के रूप में न दी गई हो. उत्पाद की श्रेणी वाले पेज पर हर इमेज के बारे में टेक्स्ट के तौर पर कुछ जानकारी दी जानी चाहिए.
  • पक्का करें कि हर पेज पर जानकारी वाला शीर्षक और मेटा जानकारी हो. खास शीर्षक और मेटा जानकारी यह दिखाने में Google की मदद करते हैं कि आपके पेज, लोगों के लिए कितने काम के हैं. साथ ही, इससे आपकी साइट पर खोज से आने वाला ट्रैफ़िक कितना बढ़ सकता है.
  • सिमेंटिक (पूरी जानकारी देने वाले) एचटीएमएल का इस्तेमाल करें. Googlebot एचटीएमएल, पीडीएफ़ सामग्री, इमेज और वीडियो को इंडेक्स करता है. हालांकि, वह ऐसी सामग्री को इंडेक्स नहीं करता जिसके लिए प्लग-इन की ज़रूरत हो (उदाहरण के लिए, Flash, Java या Silverlight). इसके अलावा, वह कैनवस में रेंडर की गई सामग्री भी इंडेक्स नहीं करता. इसलिए, जहां भी हो सके वहां अपनी सामग्री के लिए प्लग-इन के बजाय सिमेंटिक एचटीएमएल मार्कअप का इस्तेमाल करें.

अपनी सामग्री के दूसरे वर्शन के बारे मे Google को बताना

Googlebot खुद इस बात का पता नहीं लगाता है कि आपकी साइट या सामग्री के एक ज़्यादा वर्शन हैं. उदाहरण के लिए, मोबाइल और डेस्कटॉप वर्शन या आपकी साइट का अंतरराष्ट्रीय वर्शन. अगर आप चाहते हैं कि Google इस्तेमाल करने वालों को आपकी साइट का सही वर्शन दिखाए, तो:

नियंत्रित करना कि Google आपकी किस सामग्री को देख सकता है

Googlebot को ब्लॉक करने के कई तरीके हैं:

  • अगर आप चाहते हैं कि Googlebot आपके पेज को न ढूंढ पाए, तो अपनी सामग्री का एक्सेस सिर्फ़ उन इस्तेमाल करने वालों को दें जिन्होंने साइट पर लॉग इन किया हो. उदाहरण के लिए, लॉग इन पेज का इस्तेमाल करें या पेज को पासवर्ड डालकर सुरक्षित बनाएं.
  • अगर आप चाहते हैं कि Googlebot आपके पेज को क्रॉल न करे, तो robots.txt फ़ाइल बनाएं.
  • अगर आप चाहते हैं कि Googlebot आपके पेज को इंडेक्स न करे, तो Googlebot को क्रॉल करने की अनुमति दें और noindex मेटा टैग जोड़ें.

अगर 'Google सर्च' में आपकी सामग्री नहीं दिख रही है और आप इसे दिखाना चाहते हैं, तो नीचे दिया गया तरीका अपनाएं:

अपनी साइट को रिच नतीजों में दिखाना शुरू करना

खोज नतीजों में रेसिपी का कैरोसेल दिया गया है.यह कैसरोल अलग-अलग तरह की पाय के बारे में दो कार्ड दिखाता है. वीडियो चलाने के लिए आप क्लिक कर सकते हैं.

रिच नतीजे में शैली, इमेज या दूसरी इंटरैक्टिव सुविधाएं शामिल होती हैं. इनकी मदद से खोज नतीजों में आपकी साइट के नतीजे बेहतर तरीके से दिखते हैं. आप अपने पेज को समझने और इसे रिच नतीजों में दिखाने में Google की मदद कर सकते हैं. इसके लिए आपको पेज के स्ट्रक्चर्ड डेटा की जानकारी देनी होगी. ऐसा करके आप पेज के बारे में साफ़ तौर पर बता सकते हैं. अगर आप तय नहीं कर पा रहे हैं कि कहां से शुरू करें, तो हमारी गैलरी में मौजूद सुविधाएं देखें.