संग्रह की मदद से व्यवस्थित रहें अपनी प्राथमिकताओं के आधार पर, कॉन्टेंट को सेव करें और कैटगरी में बांटें.

हैकिंग या हैक किया गया कॉन्टेंट क्या है?

हैक किया गया कॉन्टेंट वह कॉन्टेंट है जो आपकी साइट पर बिना अनुमति के जोड़ दिया जाता है. ऐसा, साइट में मौजूद सुरक्षा की कमियों की वजह से होता है. Google, हैक किए गए कॉन्टेंट को खोज के नतीजों से बाहर रखने की पूरी कोशिश करता है. वह ऐसा इसलिए करता है, ताकि Google के प्लैटफ़ॉर्म का इस्तेमाल करने वाले लोग सुरक्षित रहें और उन्हें खोज के नतीजों में गलत कॉन्टेंट न दिखे. हैक किए गए कॉन्टेंट की वजह से हमारे प्लैटफ़ॉर्म का इस्तेमाल करने वाले लोगों को खोज के नतीजों में गलत कॉन्टेंट दिखता है. इसके अलावा, डिवाइसों पर नुकसान पहुंचाने वाले कॉन्टेंट के इंस्टॉल होने का डर बना रहता है. हमारा सुझाव है कि आप अपनी साइट को सुरक्षित रखें और हैक किया गया कॉन्टेंट मिलने पर उसे हटा दें.

Search Console की सुरक्षा से जुड़ी समस्याओं की रिपोर्ट के बारे में ज़्यादा जानें

हैकिंग के कुछ उदाहरणों में शामिल हैं:

  • हैक करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला कॉन्टेंट
    आपकी वेबसाइट का ऐक्सेस मिलने पर, हैकर साइट पर मौजूद पेजों में नुकसान पहुंचाने वाला कॉन्टेंट जोड़ सकते हैं. अक्सर यह कॉन्टेंट नुकसान पहुंचाने वाले JavaScript के रूप में, सीधे साइट पर या iframes में डाला जाता है.
  • जोड़ा गया कॉन्टेंट
    सुरक्षा की कमी की वजह से, कभी-कभी हैकर आपकी साइट में नए पेज भी जोड़ देते हैं. इन पेजों में स्पैम या नुकसान पहुंचाने वाला कॉन्टेंट होता है. ये पेज अक्सर सर्च इंजन के काम में हेर-फेर करने के लिए बने होते हैं. ऐसा हो सकता है कि साइट पर मौजूद पेजों को देखने से उनके हैक होने का पता न चले. हालांकि, ये नए पेज आपकी वेबसाइट पर आने वाले लोगों को नुकसान पहुंचा सकते हैं. इसके अलावा, ये पेज खोज के नतीजों में आपकी साइट की परफ़ॉर्मेंस पर भी असर डाल सकते हैं.
  • छिपा हुआ कॉन्टेंट
    हैकर आपकी साइट में मौजूद पेजों में ऐसा हेर-फेर कर सकते हैं जो आसानी से पकड़ में न आए. उनका मकसद आपकी साइट में ऐसा कॉन्टेंट जोड़ना होता है जिसे आप या आपकी साइट का इस्तेमाल करने वाले लोग आसानी से न देख पाएं. हालांकि, सर्च इंजन ऐसे कॉन्टेंट को देख पाते हैं. इसमें, सीएसएस या एचटीएमएल का इस्तेमाल करके, छिपे हुए लिंक या न दिखने वाला टेक्स्ट जोड़ना शामिल है. इसके अलावा, इसमें क्लोकिंग जैसे ज़्यादा मुश्किल बदलाव भी शामिल हो सकते हैं. यहां क्लोकिंग का मतलब, लोगों को खोजे गए कॉन्टेंट के बजाय दूसरा कॉन्टेंट दिखाना है.
  • रीडायरेक्ट
    हैकर आपकी वेबसाइट में, नुकसान पहुंचाने वाला ऐसा कोड इंजेक्ट कर सकते हैं जो आपकी साइट का इस्तेमाल करने वाले कुछ लोगों को, स्पैम या नुकसान पहुंचाने वाले पेजों पर रीडायरेक्ट कर देता है. आपको कहां रीडायरेक्ट किया जाएगा, कभी-कभी यह रेफ़रल देने वाले, उपयोगकर्ता एजेंट या डिवाइस पर निर्भर करता है. उदाहरण के लिए, Google के खोज नतीजों में किसी यूआरएल पर क्लिक करने से, आपको किसी संदिग्ध पेज पर रीडायरेक्ट किया जा सकता है. हालांकि, ब्राउज़र से सीधा उस यूआरएल में जाने पर रीडायरेक्ट नहीं होता.

हैक की गई साइटें ठीक करना

यहां हैक की गई साइटें ठीक करने और अपनी साइट को हैक होने से बचाने की सलाह दी गई हैं.

अगर आप Search Console के उपयोगकर्ता हैं और आपकी साइट पर सुरक्षा से जुड़ी कोई समस्या बार-बार आ रही है या आपको सुरक्षा से जुड़ी किसी समस्या का हल ढूंढने में मुश्किल हो रही है, तो हमें इस बात की जानकारी दें.

सुरक्षा से जुड़ी समस्या की शिकायत करें