संग्रह की मदद से व्यवस्थित रहें अपनी प्राथमिकताओं के आधार पर, कॉन्टेंट को सेव करें और कैटगरी में बांटें.

खोज के नतीजों में फ़ेविकॉन को दिखाने के तरीके के बारे में जानकारी

अगर आपकी साइट का फ़ेविकॉन है, तो Google Search के नतीजों में इसे साइट के आइकॉन के तौर पर दिखाया जा सकता है.

खोज के नतीजों में फ़ेविकॉन

लागू करना

Google Search के नतीजों में आपकी साइट का फ़ेविकॉन दिखे, इसका तरीका यहां बताया गया है:

  1. ऐसा फ़ेविकॉन बनाएं जो इन दिशा-निर्देशों को पूरा करता हो.
  2. अपने होम पेज के हेडर में इस सिंटैक्स के साथ <link> टैग जोड़ें:
    <link rel="icon" href="/path/to/favicon.ico">
    एट्रिब्यूट
    rel

    rel एट्रिब्यूट को इनमें से किसी एक स्ट्रिंग पर सेट करें:

    • icon
    • apple-touch-icon
    • apple-touch-icon-precomposed
    • shortcut icon
    href

    फ़ेविकॉन का यूआरएल. यूआरएल, रिलेटिव पाथ (/smile.ico) या ऐब्सलूट पाथ (https://example.com/smile.ico) हो सकता है. यूआरएल, होम पेज वाले डोमेन में ही होना चाहिए.

  3. Google जब भी आपके होम पेज को क्रॉल करता है, तो वह आपके फ़ेविकॉन को खोजता है और उसे अपडेट करता है. अगर आपने फ़ेविकॉन में कोई बदलाव किया है और इसकी जानकारी Google को देनी है, तो अपनी साइट के होम पेज को इंडेक्स करने का अनुरोध करें. खोज के नतीजों में, इन अपडेट को दिखने में कुछ दिन या उससे ज़्यादा समय लग सकता है.

दिशा-निर्देश

Google Search के नतीजों में फ़ेविकॉन को दिखाने के लिए, आपको इन दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा.

  • Google Search हर साइट पर सिर्फ़ एक फ़ेविकॉन का इस्तेमाल करता है, जहां किसी साइट को होस्टनेम से तय किया जाता है. उदाहरण के लिए, https://www.example.com/ और https://code.example.com/ दो अलग-अलग होस्टनेम हैं, इसलिए इनके दो अलग-अलग फ़ेविकॉन हो सकते हैं. हालांकि, https://www.example.com/sub-site किसी साइट की सबडायरेक्ट्री है और https://www.example.com/ के लिए सिर्फ़ एक फ़ेविकॉन सेट किया जा सकता है, जो कि उस साइट और उसकी सबडायरेक्ट्री पर लागू हो जाता है.
    इसकी अनुमति है: https://example.com (डोमेन-लेवल का होम पेज)
    इसकी अनुमति है: https://news.example.com (सबडोमेन-लेवल का होम पेज)
    मौजूद नहीं: https://example.com/news (सबडायरेक्ट्री-लेवल का होम पेज)
  • फ़ेविकॉन फ़ाइल और होम पेज, दोनों ऐसे होने चाहिए कि Google उन्हें क्रॉल कर सके. इसका मतलब है कि Google पर उन्हें क्रॉल होने से ब्लॉक नहीं किया जा सकता.
  • खोज के नतीजों को देखते समय लोग आपकी साइट को तुरंत पहचान पाएं, इसके लिए पक्का करें कि आपका फ़ेविकॉन, आपकी वेबसाइट के ब्रैंड को साफ़ तौर पर दिखाए.
  • आपका फ़ेविकॉन, 48px स्क्वेयर के मल्टिपल में होना चाहिए. जैसे, 48x48px, 96x96px, 144x144px वगैरह. SVG फ़ाइलों का कोई खास साइज़ नहीं होता. फ़ेविकॉन के लिए कोई भी मान्य फ़ॉर्मैट इस्तेमाल किया जा सकता है.
  • फ़ेविकॉन का यूआरएल एक जैसा रहना चाहिए. इसे बार-बार न बदलें.
  • Google ऐसा कोई फ़ेविकॉन नहीं दिखाएगा जो उसे गलत लगता हो. इसमें पोर्नोग्राफ़ी या नफ़रत फैलाने वाले निशान भी शामिल हैं. जैसे, जर्मनी की नाज़ी पार्टी का निशान. अगर किसी फ़ेविकॉन में ऐसी तस्वीरें मिलती हैं, तो Google उन्हें एक डिफ़ॉल्ट आइकॉन से बदल देगा.

Google Favicon उपयोगकर्ता एजेंट

Google Favicon ऐसा उपयोगकर्ता एजेंट है जिसे वेबसाइटों के फ़ेविकॉन को डाउनलोड करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह वेबसाइटों को खास स्थितियों में ही क्रॉल करता है: यह इंडेक्स किए जाने के दौरान सिग्नल मिलने पर आपकी साइट के होम पेज को क्रॉल कर सकता है. इसके अलावा, यह किसी उपयोगकर्ता के अनुरोध करने पर साइट को क्रॉल कर सकता है. Google Favicon उपयोगकर्ता एजेंट से अपने पेज को क्रॉल कराने के लिए, अपनी साइट के होम पेज को इंडेक्स करने का अनुरोध करें. खोज के नतीजों में, इन अपडेट को दिखने में कुछ दिन या उससे ज़्यादा लग सकतें हैं.