नकल किया गया कॉन्टेंट

कुछ वेबसाइट के मालिक दूसरों के कॉन्टेंट (“नकल किए गए”) का इस्तेमाल करते हैं. वे इस गलतफ़हमी में दूसरी ज़्यादा मशहूर साइटों का कॉन्टेंट इस्तेमाल करते हैं कि ऐसा करने से उनकी साइट पर पेजों की संख्या बढ़ जाएगी और इससे लंबे समय तक उनकी साइट को फ़ायदा मिलेगा. ऐसा करते हुए, वे इस बात पर भी ध्यान नहीं देते कि कॉन्टेंट कितने काम का है और दूसरों से अलग है या नहीं. पूरी तरह नकल किया गया कॉन्टेंट, भले ही किसी भरोसेमंद स्रोत से क्यों न लिया गया हो, तब तक आपके उपयोगकर्ताओं के लिए फ़ायदेमंद नहीं हो सकता, जब तक आप उसमें दूसरी उपयोगी सेवाएं या कॉन्टेंट अपनी तरफ़ से नहीं जोड़ते. कुछ मामलों में इसे कॉपीराइट का उल्लंघन भी माना जा सकता है. भले ही मूल कॉन्टेंट बनाने में समय लगे, लेकिन यह आपकी साइट की दूसरों से अलग पहचान बनाने में मदद करता है. इससे उपयोगकर्ता आपकी साइट पर बार-बार आते रहेंगे और Google पर खोज करने वालों को बेहतर नतीजे मिलेंगे.

नकल किए गए कॉन्टेंट वाली साइटों के कुछ उदाहरणः

  • ऐसी साइटें जो मूल कॉन्टेंट या जानकारी जोड़े बिना, दूसरी साइटों से कॉन्टेंट को कॉपी करके फिर से प्रकाशित करती हैं
  • ऐसी साइटें जो दूसरी साइटों से कॉन्टेंट कॉपी करती हैं, उसमें थोड़ा बदलाव करती हैं (उदाहरण के लिए, समानार्थी शब्दों को बदलकर या अपने-आप काम करने वाली तकनीकों का इस्तेमाल करके) और फिर से प्रकाशित करती हैं
  • ऐसी साइटें जो दूसरी साइटों के कॉन्टेंट फ़ीड की मदद से अपना कॉन्टेंट बनाती हैं और ऐसा करते समय, उसे किसी अनोखे तरीके से नहीं बनाती हैं. इससे उपयोगकर्ताओं को कोई खास फ़ायदा नहीं मिलता है
  • ऐसी साइटें जो वीडियो, इमेज या दूसरी मीडिया फ़ाइलें एम्बेड करके, सीधे दूसरी साइटों का कॉन्टेंट इस्तेमाल करती हैं. ऐसा करते हुए, वे उपयोगकर्ताओं को किसी तरह की ज़रूरी और नई जानकारी भी नहीं देती हैं