कोर्स की जानकारी (Course और CourseInstance) का स्ट्रक्चर्ड डेटा

Google Search पर कोर्स की जानकारी किस तरह दिख सकती है, इसका इलस्ट्रेशन

कोर्स की जानकारी वाले स्ट्रक्चर्ड डेटा का इस्तेमाल करके, Google को अपने कोर्स के बारे में बताएं. इससे लोगों को आपके कोर्स का कॉन्टेंट ढूंढने में आसानी होगी. जब किसी कोर्स के बारे में ज़्यादा जानकारी दी जाती है, जैसे कि समीक्षक की रेटिंग, कीमत, और कोर्स की जानकारी, तो Google आपके कोर्स को बेहतर ढंग से समझ सकता है. साथ ही, कोर्स की जानकारी वाले ज़्यादा बेहतर नतीजे (रिच रिज़ल्ट) के साथ लोगों को बेहतर अनुभव भी दे सकता है.

ज़्यादा बेहतर नतीजों (रिच रिज़ल्ट) की दो सुविधाएं उपलब्ध हैं. इनके लिए, एक ही schema.org Course टाइप का इस्तेमाल किया जाता है. अगर आपकी साइट, कोर्स के बारे में जानकारी देती है, तो लागू करने वाली दोनों गाइड का पालन करके, आपको दोनों सुविधाएं मिल सकती हैं:

  • कोर्स की सूची: यह एक ज़्यादा बेहतर नतीजा (रिच रिज़ल्ट) है, जिसमें उसी वेबसाइट के कोर्स की सूची होती है.
  • कोर्स की जानकारी: यह एक कैरसेल है. यह कई वेबसाइटों से लेकर कोर्स की पूरी जानकारी दिखाता है.

सुविधा की उपलब्धता

कोर्स की जानकारी वाला रिच रिज़ल्ट, अंग्रेज़ी में उन सभी इलाकों में उपलब्ध है जहां Google Search की सुविधा का इस्तेमाल किया जा सकता है. हमारी कोशिश है कि आने वाले समय में, हम अंग्रेज़ी के अलावा, अन्य भाषाओं के ज़्यादा से ज़्यादा कोर्स शामिल करें.

स्ट्रक्चर्ड डेटा को जोड़ने का तरीका

स्ट्रक्चर्ड डेटा, किसी पेज के बारे में जानकारी देने और पेज के कॉन्टेंट को कैटगरी में बांटने का एक स्टैंडर्ड फ़ॉर्मैट है. अगर आपको स्ट्रक्चर्ड डेटा के बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं है, तो स्ट्रक्चर्ड डेटा के काम करने का तरीका देखें.

स्ट्रक्चर्ड डेटा बनाने, उसकी जांच करने, और उसे रिलीज़ करने के बारे में खास जानकारी यहां दी गई है. वेब पेज में स्ट्रक्चर्ड डेटा जोड़ने के सिलसिलेवार निर्देशों के लिए, स्ट्रक्चर्ड डेटा कोडलैब (कोड बनाना सीखना) देखें.

  1. ज़रूरी प्रॉपर्टी जोड़ें. जिस फ़ॉर्मैट का इस्तेमाल हो रहा है उसके हिसाब से जानें कि पेज पर स्ट्रक्चर्ड डेटा कहां डालना है.
  2. दिशा-निर्देशों का पालन करें.
  3. ज़्यादा बेहतर नतीजों (रिच रिज़ल्ट) की जांच का इस्तेमाल करके, अपने कोड की पुष्टि करें. साथ ही, सभी ज़रूरी गड़बड़ियों को ठीक करें. ऐसी अन्य समस्याओं को भी ठीक करें जो टूल में फ़्लैग की जा सकती हैं. ऐसा इसलिए, क्योंकि इससे आपके स्ट्रक्चर्ड डेटा की क्वालिटी को बेहतर बनाने में मदद मिल सकती है. हालांकि, ज़्यादा बेहतर नतीजों (रिच रिज़ल्ट) में शामिल होने के लिए, यह ज़रूरी नहीं है.
  4. स्ट्रक्चर्ड डेटा वाले कुछ पेजों को डिप्लॉय करें. इसके बाद, यूआरएल जांचने वाला टूल इस्तेमाल करके देखें कि Google को पेज कैसा दिखेगा. पक्का करें कि Google आपका पेज ऐक्सेस कर सकता हो. साथ ही, देखें कि उस पेज को robots.txt फ़ाइल और noindex टैग से ब्लॉक न किया गया हो या लॉग इन करना ज़रूरी न हो. अगर पेज ठीक लगता है, तो Google को अपने यूआरएल फिर से क्रॉल करने के लिए कहा जा सकता है.
  5. Google को आगे होने वाले बदलावों की जानकारी देने के लिए हमारा सुझाव है कि आप साइटमैप सबमिट करें. Search Console साइटमैप एपीआई की मदद से, इसे ऑटोमेट भी किया जा सकता है.

उदाहरण

यहां एक कोर्स की ज़्यादा जानकारी वाले पेज का उदाहरण दिया गया है.


<html>
  <head>
    <title>Introduction to Computer Science and Programming</title>
    <script type="application/ld+json">
    {
      "@context": "https://schema.org/",
      "@id": "https://www.example.com/advancedCpp",
      "@type": "Course",
      "name": "Learn Advanced C++ Topics",
      "description": "Improve your C++ skills by learning advanced topics.",
      "publisher": {
        "@type": "Organization",
        "name": "CourseWebsite",
        "url": "www.examplecoursewebsite.com"
      },
      "provider": {
        "@type": "Organization",
        "name": "Example University",
        "url": "www.example.com"
      },
      "image": [
        "https://example.com/photos/1x1/photo.jpg",
        "https://example.com/photos/4x3/photo.jpg",
        "https://example.com/photos/16x9/photo.jpg"
      ],
      "aggregateRating": {
        "@type": "AggregateRating",
        "ratingValue": 4,
        "ratingCount": 1234,
        "reviewCount": 450
      },
      "offers": [{
        "@type": "Offer",
        "category": "Paid",
        "priceCurrency": "EUR",
        "price": 10.99
      }],
      "totalHistoricalEnrollment": 12345,
      "datePublished": "2019-03-21",
      "educationalLevel": "Advanced",
      "about": ["C++ Coding", "Backend Engineering"],
      "teaches": ["Practice and apply systems thinking to plan for change",
                  "Understand how memory allocation works."],
      "financialAidEligible": "Scholarship Available",
      "inLanguage": "en",
      "availableLanguage": ["fr", "es"],
      "syllabusSections": [
        {
          "@type": "Syllabus",
          "name": "Memory Allocation",
          "description": "Learn how memory is allocated when creating C++ variables.",
          "timeRequired": "PT6H"
        },
        {
          "@type": "Syllabus",
          "name": "C++ Pointers",
          "description": "Learn what a C++ pointer is and when they are used.",
          "timeRequired": "PT11H"
        }
      ],
      "review": [
      {
        "@type": "Review",
        "author": {
            "@type": "Person",
            "name": "Lou S."
        },
        "datePublished": "2020-08-31",
        "reviewRating": {
          "@type": "Rating",
          "bestRating": 10,
          "ratingValue": 6
        }
      }],
      "coursePrerequisites": [
        "Basic understanding of C++ up to arrays and functions.",
        "https://www.example.com/beginnerCpp"
      ],
      "educationalCredentialAwarded": [{
        "@type": "EducationalOccupationalCredential",
        "name": "CourseProvider Certificate",
        "url": "www.example.com",
        "credentialCategory": "Certificate",
        // offers only needed if the credential costs extra money.
        "offers": [{
          "@type": "Offer",
          "category": "Paid",
          "price": 5,
          "priceCurrency": "USD"
        }]
      }],
      "video": {
        "@type": "VideoObject",
        "name": "Video name",
        "description": "A video previewing this course.",
        "uploadDate": "2022-03-28T08:00:00+08:00",
        "contentUrl": "www.example.come/mp4",
        "thumbnailUrl": "www.example.com/thumbnailurl.jpg"
      },
      "hasCourseInstance": [
      {
        // Blended, instructor-led course meeting 3 hours per day in July.
        "@type": "CourseInstance",
        "courseMode": "Blended",
        "location": "Example University",
        "courseSchedule": {
          "@type": "Schedule",
          "duration": "PT3H",
          "repeatFrequency": "Daily",
          "repeatCount": 31,
          "startDate": "2023-07-01",
          "endDate": "2023-07-31"
        },
        "instructor": [{
          "@type": "Person",
          "name": "Ira D.",
          "description": "Professor at X-University",
          "image": "http://example.com/person.jpg"
        }]
      },
      {
        // Online self-paced course that takes 2 days to complete.
        "@type": "CourseInstance",
        "courseMode": "Online",
        "courseWorkload": "P2D"
      }],
      // Only required for course programs that link to child courses.
      "hasPart": [{
        "@type": "Course",
        "name": "C++ Algorithms",
        "url": "https://www.example.com/cpp-algorithms",
        "description": "Learn how to code base algorithms in c++.",
        "provider": {
          "@type": "Organization",
          "name": "Example University",
          "url": "www.example.com"
        }
      }, {
        "@type": "Course",
        "name": "C++ Data Structures",
        "url": "https://www.example.com/cpp-data-structures",
        "description": "Learn about core c++ data structures.",
        "provider": {
          "@type": "Organization",
          "name": "Example University",
          "url": "www.example.com"
        }
      }]
    }
    </script>
  </head>
  <body>
  </body>
</html>

दिशा-निर्देश

Google Search पर अपने कोर्स की जानकारी को ज़्यादा बेहतर नतीजे (रिच रिज़ल्ट) के तौर पर दिखाने के लिए, आपको इन दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा.

कॉन्टेंट के लिए दिशा-निर्देश

कोर्स की जानकारी वाले ज़्यादा बेहतर नतीजे (रिच रिज़ल्ट) के लिए, शिक्षा से जुड़ा सिर्फ़ वही कॉन्टेंट दिखाया जा सकता है जो नीचे दी गई परिभाषा के मुताबिक हो: पाठ्यक्रम की ऐसी सीरीज़ या यूनिट जिसमें किसी खास विषय पर लेक्चर, लेसन या मॉड्यूल शामिल हों.

Course मार्कअप किसी ऐसे वेब पेज पर होना चाहिए जो एक पूरा, एक ही कोर्स या कोर्स प्रोग्राम ऑफ़र करता हो. नीचे दिए गए उदाहरण, कोर्स की जानकारी वाले ज़्यादा बेहतर नतीजे (रिच रिज़ल्ट) के लिए, ज़रूरी शर्तों को पूरा नहीं करते हैं:

  • शैक्षणिक डिग्री की खास जानकारी वाला पेज
  • स्टैंडअलोन परीक्षा वाला पेज
  • एक आम सार्वजनिक इवेंट. जैसे, "खगोल विज्ञान दिवस"
  • दो मिनट का एक "सैंडविच बनाने के तरीके का वीडियो"

अलग-अलग तरह के स्ट्रक्चर्ड डेटा की जानकारी

आपका कॉन्टेंट Google Search में ज़्यादा बेहतर नतीजे (रिच रिज़ल्ट) के तौर पर दिखे, इसके लिए आपको Course और CourseInstance प्रॉपर्टी जोड़नी होंगी. अपने कॉन्टेंट के बारे में ज़्यादा जानकारी जोड़ने के लिए, आपके पास सुझाई गई प्रॉपर्टी शामिल करने का विकल्प भी होता है. इससे लोगों को बेहतर अनुभव मिल सकता है.

Course

कोर्स, पाठ्यक्रम की एक अलग यूनिट होता है. यह अपने-आप में अलग या किसी प्रोग्राम का हिस्सा हो सकता है.

Course की पूरी जानकारी schema.org/Course पर मौजूद है.

ज़रूरी प्रॉपर्टी
name

Text

कोर्स का पूरा टाइटल.

"name": "Intro to Statistics"
description

Text

कोर्स की जानकारी.

  • सुझाई गई लंबाई: 240 वर्ण
  • ज़्यादा से ज़्यादा लंबाई: 500 वर्ण
"description": "This course teaches the basics of statistical thinking."
provider

Organization

उस संगठन के बारे में जानकारी जिसने कोर्स के लिए कॉन्टेंट बनाया है.

"provider": {
   "@type": "Organization",
   "name": "Example University",
   "url": "www.exampleuniversity.com"
}
provider.name Text

कोर्स की सुविधा देने वाली कंपनी का नाम.

offers

दोहराया जा सकने वाला Offer

कोर्स पूरा करने के लिए कुल कीमत की जानकारी, जिसमें सेवा शुल्क भी शामिल हैं. ऐसी कीमत शामिल न करें जो सिर्फ़ कुछ लोगों के लिए उपलब्ध हो. (उदाहरण के लिए, पहली बार खरीदारी करने वाले उपयोगकर्ताओं के लिए 20% की छूट).

इस फ़ील्ड में, सर्टिफ़िकेट के लिए लिया जाने वाला अतिरिक्त शुल्क शामिल न करें. अगर सर्टिफ़िकेट पाने के लिए आपसे अलग से कोई शुल्क लिया जाता है, तो उसे educationalCredentialAwarded प्रॉपर्टी में जोड़ें.

"offers": [{
   "@type": "Offer",
   "category": "Paid",
   "priceCurrency": "EUR",
   "price": 10.99
}]
         
offers.category Text

कोर्स की कीमत की कैटगरी. इनमें से किसी एक वैल्यू का इस्तेमाल करें:

  • Free: सभी उपयोगकर्ताओं के लिए सभी लेक्चर, असाइनमेंट, और टेस्ट बिना किसी शुल्क के उपलब्ध होने चाहिए. समूचा कोर्स बिना किसी शुल्क के पूरा किया जा सकता है.
  • Partially Free: कोर्स के आधे से ज़्यादा कोर्स बिना किसी शुल्क के पूरे किए जा सकते हैं (उदाहरण के लिए, सभी लेक्चर मुफ़्त हैं, लेकिन असाइनमेंट के लिए पैसे लिए जाते हैं).
  • Subscription: समूचा कोर्स पूरा करने के लिए, यह ज़रूरी है कि उपयोगकर्ता, सदस्य हो या उसने पैसे चुकाकर सदस्यता ली हो.
  • Paid: उपयोगकर्ता को कोर्स पूरा करने के लिए पैसे चुकाने होंगे.
hasCourseInstance

दोहराया जा सकने वाला CourseInstance

हर कोर्स में कम से कम एक कोर्स होना चाहिए. साथ ही, इसमें कोर्स के बारे में पूरी जानकारी भी होनी चाहिए. CourseInstance सेक्शन में जाकर, ज़रूरी और सुझाई गई प्रॉपर्टी देखें.

"hasCourseInstance": [{
   // Onsite, instructor-led class meeting weekly in August 2023
   "@type": "CourseInstance",
   "courseMode": "Onsite",
   "location": "Example University",
   "courseSchedule": {
      "@type": "Schedule",
      "duration": "PT5H",
      "repeatCount": 4,
      "repeatFrequency": "Weekly",
      "startDate": "2023-08-01",
      "endDate": "2023-8-31"
   },
   "instructor": [{
      "@type": "Person",
      "name": "Kai S.",
      "description": "Professor at X-University",
      "image": "http://examplePerson.jpg"
   }]
}]
सुझाई गई प्रॉपर्टी
about

दोहराया जा सकने वाला Text

अगर लागू हो, तो इससे उन कौशल की जानकारी मिलती है जो उपयोगकर्ता, को कोर्स पूरा करने के बाद हासिल होंगे.

"about": ["Quantitative Analysis", "Critical Thinking"]
aggregateRating

AggregateRating

अगर लागू हो, तो कोर्स में हिस्सा लेने वाले उपयोगकर्ताओं की दी गई रेटिंग के आधार पर कोर्स की औसत रेटिंग के बारे में जानकारी. समीक्षा स्निपेट के दिशा-निर्देशों के साथ सुझाई गई और ज़रूरी AggregateRating प्रॉपर्टी की सूची को फ़ॉलो करें.

"aggregateRating": {
"@type": "AggregateRating",
"ratingValue": 4.8,
"ratingCount": 255,
"reviewCount": 189
}
availableLanguage

दोहराया जा सकने वाला Text

अगर लागू हो, तो सबटाइटल, क्लोज़्ड कैप्शन या अन्य भाषाओं में उपलब्ध कोर्स. आईएसओ 639-1 ऐल्फ़ा-2 कोड की सूची में दिए दो अक्षरों वाले कोड का इस्तेमाल करें.

"availableLanguage": ["fr", "es", "de"]
coursePrerequisites

दोहराया जा सकने वाला Text

अगर लागू हो, तो कोर्स के लिए पहले से ज़रूरी जानकारी. इसकी पहचान करने के लिए, पहले दी गई जानकारी का इस्तेमाल किया जा सकता है या किसी दूसरे कोर्स से जोड़ा जा सकता है. इसके अलावा, दोनों तरीकों से जानकारी भी दिखाई जा सकती है.

"coursePrerequisites": ["Understanding of Algebra concepts like variables and functions",
            "https://www.coursewebsite.abc/algebra"]
datePublished

Date

अगर लागू हो, तो कोर्स को पहली बार पब्लिश करने की तारीख. तारीख के लिए 8601 फ़ॉर्मैट (YYYY-MM-DD) का इस्तेमाल करें.

"datePublished": "2019-03-21"
educationalCredentialAwarded

दोहराया जा सकने वाला EducationalOccupationalCredential

अगर लागू हो, तो कोर्स पूरा करने पर उपयोगकर्ता को मिल सकने वाले सर्टिफ़िकेट या क्रेडेंशियल की जानकारी. अगर अवॉर्ड के लिए ज़्यादा पैसे देने पड़ते हैं, तो अलग से कीमत बताएं.

"educationalCredentialAwarded": [{
   "@type": "EducationalOccupationalCredential",
   "name": "CourseProvider Certificate",
   "url": "www.examplecertificate.com",
   "credentialCategory": "Certificate",
   "offers": [{
      "@type": "Offer",
      "category": "Paid",
      "priceCurrency": "USD",
      "price": 5
   }]
}]
educationalCredentialAwarded.credentialCategory Text

अगर लागू हो, तो उपयोगकर्ता को मिलने वाले अवॉर्ड के टाइप की जानकारी. इनमें से किसी एक वैल्यू का इस्तेमाल करें:

  • Certificate: उपयोगकर्ता की ओर से कोर्स या प्रोग्राम के पूरा होने की पुष्टि करने वाला अवॉर्ड.
  • Certification: आधिकारिक क्रेडेंशियल, जिसके लिए परीक्षा में हिस्सा लेना ज़रूरी है या जिससे यह पता चलता है कि उपयोगकर्ता ने योग्यता हासिल कर ली है.

educationalCredentialAwarded.name Text

अगर लागू हो, तो अवॉर्ड का नाम.

educationalCredentialAwarded.offers.category Text

अगर लागू हो, तो अवॉर्ड के लिए कीमत का टाइप. इनमें से किसी एक कैटगरी का इस्तेमाल करें:

  • Free: यह अवॉर्ड बिना किसी शुल्क के उपलब्ध है.
  • Subscription: अवॉर्ड पाने के लिए, यह ज़रूरी है कि उपयोगकर्ता ने सदस्यता ली हो या उसे पैसे चुकाकर सदस्यता ली हो.
  • Paid: अवॉर्ड पाने के लिए उपयोगकर्ता को पैसे चुकाने होंगे.
educationalCredentialAwarded.offers.price Number

अगर लागू हो, तो अंकों में अवॉर्ड की कीमत.

educationalCredentialAwarded.offers.priceCurrency Text

अगर लागू हो, तो अवॉर्ड की कीमत की मुद्रा, ISO 4217 मुद्रा फ़ॉर्मैट में (तीन अक्षर वाला कोड).

educationalCredentialAwarded.url URL

अगर लागू हो, तो अवॉर्ड पेज का लिंक.

educationalLevel

Text

अगर लागू हो, तो टारगेट किए गए एजुकेशन लेवल के बारे में जानकारी. इनमें से कोई एक वैल्यू चुनें.

  • Beginner: कॉन्टेंट को समझने के लिए, पहले से किसी जानकारी की ज़रूरत नहीं है
  • Intermediate: कॉन्टेंट को समझने के लिए, कुछ जानकारी की ज़रूरत पड़ सकती है
  • Advanced: यह कॉन्टेंट उनके लिए है जिन्हें पहले से ही इस विषय की अच्छी समझ है
"educationalLevel": "Beginner"
financialAidEligible

Text

अगर लागू हो, तो कोर्स में भाग लेने वाले उपयोगकर्ताओं के लिए कोई स्कॉलरशिप, खास पेमेंट प्लान या वित्तीय सहायता के दूसरे अवसर.

"financialAidEligible": "Scholarships available for eligible users."
image

दोहराया जा सकने वाला URL

अगर लागू हो, तो कोर्स की जानकारी देने वाली इमेज का यूआरएल. लोगो या कैप्शन के बजाय, ऐसी इमेज का इस्तेमाल करें जो कोर्स से जुड़ी हों.

इमेज के बारे में अन्य दिशा-निर्देश:

  • हर पेज में कम से कम एक इमेज होनी चाहिए (चाहे आप मार्कअप को शामिल करें या न करें). Google, आसपेक्ट रेशियो (चौड़ाई-ऊंचाई का अनुपात) और रिज़ॉल्यूशन के हिसाब से, खोज के नतीजों में दिखाने के लिए सबसे अच्छी इमेज चुनेगा.
  • इमेज के यूआरएल ऐसे होने चाहिए जिन्हें क्रॉल और इंडेक्स किया जा सके. यूआरएल जांचने वाले टूल का इस्तेमाल करके, यह पता करें कि Google आपकी साइट के पेज ऐक्सेस कर पा रहा है या नहीं.
  • इमेज ऐसी होनी चाहिए जो मार्कअप किए गए कॉन्टेंट के बारे में बताती हों.
  • इमेज का उस फ़ाइल फ़ॉर्मैट में होना ज़रूरी है जो Google Images के साथ काम करता हो.
  • सबसे अच्छे नतीजों के लिए, हम हाई रिज़ॉल्यूशन वाली ऐसी कई इमेज (चौड़ाई और ऊंचाई को गुणा करने के बाद कम से कम 50,000 पिक्सल) उपलब्ध कराने का सुझाव देते हैं जिनका आसपेक्ट रेशियो (चौड़ाई-ऊंचाई का अनुपात) 16x9, 4x3, और 1x1 हो.

उदाहरण के लिए:

"image": [
  "https://example.com/photos/1x1/photo.jpg",
  "https://example.com/photos/4x3/photo.jpg",
  "https://example.com/photos/16x9/photo.jpg"
]
inLanguage

Text

अगर लागू हो, तो कोर्स जिस मुख्य भाषा में उपलब्ध है उसकी जानकारी. आईएसओ 639-1 ऐल्फ़ा-2 कोड की सूची में दिए दो अक्षरों वाले कोड का इस्तेमाल करें.

"inLanguage": "en"
offers.price Number

अगर लागू हो, तो कोर्स का अंकों में शुल्क. इस फ़ील्ड में अन्य जानकारी शामिल न करें, जैसे कि मुद्रा का चिह्न.

offers.priceCurrency Text

अगर लागू हो, तो कोर्स की कीमत की मुद्रा, ISO 4217 मुद्रा फ़ॉर्मैट में, (तीन अक्षर वाला कोड).

provider.url URL

अगर लागू हो, तो कोर्स की सेवा देने वाली कंपनी के होम पेज से जुड़ा यूआरएल.

publisher

Organization

अगर लागू हो, तो कोर्स को पब्लिश और दिखाने वाले संगठन के बारे में जानकारी.

"publisher": {
   "@type": "Organization",
   "name": "Course Website",
   "url": "www.example.com"
}
publisher.name Text

अगर लागू हो, तो कोर्स पब्लिशर.

publisher.url URL

अगर लागू हो, तो कोर्स पब्लिशर के होम पेज से लिंक करने वाला यूआरएल.

review

दोहराया जा सकने वाला Review

अगर लागू हो, तो कोर्स के बारे में उपयोगकर्ता की समीक्षाओं की सूची. ज़्यादा जानकारी के लिए, समीक्षा स्निपेट के दिशा-निर्देशों का पालन करें.

"review": [{
   "@type": "Review",
   "author": {
      "@type": "Person",
      "name": "Sasha J."
   },
   "datePublished": "2021-09-22",
   "reviewRating": {
      "@type": "Rating",
      "ratingValue": 4
   }
}]
syllabusSections

दोहराया जा सकने वाला Syllabus

अगर लागू हो, तो कोर्स बनाने वाले अलग-अलग मॉड्यूल के बारे में जानकारी.

"syllabusSections": [{
   "@type": "Syllabus",
   "name": "Algebra Review",
   "description": "Review prerequisite Algebra concepts.",
   "timeRequired": "PT2H30M"
}, {
   "@type": "Syllabus",
   "name": "Statistics Terms",
   "description": "Learn the definitions of basic statistics terms.",
   "timeRequired": "PT5H"
}]
syllabusSections.description Text

अगर लागू हो, तो मॉड्यूल किस बारे में है, इसकी जानकारी.

syllabusSections.name Text

अगर लागू हो, तो कोर्स के मॉड्यूल का नाम.

syllabusSections.timeRequired Duration

अगर लागू हो, तो कोर्स की अवधि के लिए 8601 फ़ॉर्मैट का इस्तेमाल करें. उदाहरण के लिए, PT2H30M का मतलब है कि मॉड्यूल को पूरी तरह से पूरा होने में 2 घंटे और 30 मिनट लगेंगे.

teaches

दोहराया जा सकने वाला Text

अगर लागू हो, तो इस कोर्स को पूरा करने से उपयोगकर्ता को मिलने वाली सीख या खास समझ की जानकारी.

"teaches": ["How to use visualization tools and graphs", "Why stats is important"]
totalHistoricalEnrollment

Integer

अगर लागू हो, तो कोर्स के कुल समय के दौरान रजिस्टर करने वाले उपयोगकर्ताओं की कुल संख्या.

"totalHistoricalEnrollment": 80032
video

VideoObject

अगर लागू हो, तो वीडियो में कोर्स की झलक या ट्रेलर. ज़्यादा जानकारी के लिए, VideoObject के दिशा-निर्देशों का पालन करें.

"video": {
   "@type": "VideoObject",
   "name": "Video name",
   "description": "A video previewing this course.",
   "uploadDate": "2022-03-28T08:00:00+08:00",
   "contentUrl": "www.videourl.mp4",
   "thumbnailUrl": "www.thumbnailurl.jpg"
}

CourseInstance

CourseInstance की पूरी जानकारी, schema.org/CourseInstance पर उपलब्ध है. हर कोर्स में कम से कम एक CourseInstance होना चाहिए. साथ ही, इसमें ज़रूरी प्रॉपर्टी भरी हुई होनी चाहिए.

ज़रूरी प्रॉपर्टी
courseMode

Text

वह मीडियम जिसमें कोर्स डिलीवर किया जाएगा. इनमें से किसी एक वैल्यू का इस्तेमाल करें:

  • Online: सभी क्लास के लेक्चर, असाइनमेंट, और टेस्ट वर्चुअल तरीके से पूरे किए जा सकते हैं.
  • Onsite: यह कोर्स व्यक्तिगत तौर पर किसी खास जगह पर पढ़ाया जाता है.
  • Blended: इस कोर्स में ऑनलाइन और व्यक्तिगत तौर पर पढ़ाने के, दोनों कॉम्पोनेंट शामिल हैं.

अगर क्लास Onsite या Blended है, तो location प्रॉपर्टी जोड़ें.

"courseMode": "Online"

courseSchedule

Schedule

सुझाई गई पेसिंग के आधार पर, इस बारे में जानकारी कि औसत उपयोगकर्ता को इस कोर्स में कितना समय लगता है. एक तय टाइमलाइन वाले कोर्स के शुरू और खत्म होने की तारीख शामिल करें.

यहां ऐसे कोर्स का एक उदाहरण दिया गया है, जिसे किसी भी समय शुरू किया जा सकता है:

// This course takes 6 weeks to complete.
"courseSchedule": {
   "@type": "Schedule",
   "repeatCount": 6
   "repeatFrequency": "Weekly",
}

यहां एक तय समय के दौरान पूरा होने वाले कोर्स का उदाहरण दिया गया है:

// This course expects 1 hour per day during July 2023
"courseSchedule": {
   "@type": "Schedule",
   "duration": "PT1H",
   "repeatCount": 31
   "repeatFrequency": "Daily",
   "startDate": "2023-07-01",
   "endDate": "2023-07-31"
}
courseSchedule.repeatCount Integer

repeatFrequency यूनिट में, कोर्स के चलने की अवधि के लिए अंकों वाली वैल्यू. उदाहरण के लिए, अगर repeatFrequency हर महीने का है और repeatCount चार महीने का है, तो कोर्स चार महीने तक चलेगा.

courseSchedule.repeatFrequency Text

duration और repeatCount प्रॉपर्टी इस फ़ील्ड से मिलती-जुलती हैं. इनमें से किसी एक वैल्यू का इस्तेमाल करें:

  • Daily: यह कोर्स हर दिन होता है.
  • Weekly: यह कोर्स हर हफ़्ते होता है.
  • Monthly: यह कोर्स हर महीने होता है.
  • Yearly: यह कोर्स हर साल होता है.
courseWorkload Text

यह फ़ील्ड, कोर्स के सभी वीडियो देखने और सभी असाइनमेंट और परीक्षाओं को पूरा करने में लगने वाले कुल समय को दिखाता है. कोर्स की अवधि के लिए 8601 फ़ॉर्मैट का इस्तेमाल करें.

"courseWorkload": "PT22H"
सुझाई गई प्रॉपर्टी
courseSchedule.duration Duration

अगर लागू हो, तो 8601 अवधि वाले फ़ॉर्मैट में, औसत उपयोगकर्ता repeatFrequency यूनिट में कितना समय बिता सकता है, इसके लिए सुझाई गई पेसिंग. उदाहरण के लिए, अगर repeatFrequency हर महीने का है और duration PT5H के लिए है, तो उपयोगकर्ता को हर महीने पांच घंटे तक बिताने चाहिए.

इस प्रॉपर्टी के साथ कोर्स की पूरी लंबाई तय न करें. इसके बजाय, courseWorkload प्रॉपर्टी का इस्तेमाल करें.

courseSchedule.endDate Date

अगर लागू हो, तो कोर्स खत्म होने की तारीख, 8601 तारीख फ़ॉर्मैट (YYYY-MM-DD) में डालें.

courseSchedule.startDate Date

अगर लागू हो, तो कोर्स शुरू होने की तारीख, 8601 तारीख के फ़ॉर्मैट (YYYY-MM-DD) में डालें.

image URL

अगर लागू हो, तो शिक्षक की इमेज से जुड़ा यूआरएल.

इमेज के बारे में अन्य दिशा-निर्देश:

  • हर पेज में कम से कम एक इमेज होनी चाहिए (चाहे आप मार्कअप को शामिल करें या न करें). Google, आसपेक्ट रेशियो (चौड़ाई-ऊंचाई का अनुपात) और रिज़ॉल्यूशन के हिसाब से, खोज के नतीजों में दिखाने के लिए सबसे अच्छी इमेज चुनेगा.
  • इमेज के यूआरएल ऐसे होने चाहिए जिन्हें क्रॉल और इंडेक्स किया जा सके. यूआरएल जांचने वाले टूल का इस्तेमाल करके, यह पता करें कि Google आपकी साइट के पेज ऐक्सेस कर पा रहा है या नहीं.
  • इमेज ऐसी होनी चाहिए जो मार्कअप किए गए कॉन्टेंट के बारे में बताती हों.
  • इमेज का उस फ़ाइल फ़ॉर्मैट में होना ज़रूरी है जो Google Images के साथ काम करता हो.
  • सबसे अच्छे नतीजों के लिए, हम हाई रिज़ॉल्यूशन वाली ऐसी कई इमेज (चौड़ाई और ऊंचाई को गुणा करने के बाद कम से कम 50,000 पिक्सल) उपलब्ध कराने का सुझाव देते हैं जिनका आसपेक्ट रेशियो (चौड़ाई-ऊंचाई का अनुपात) 16x9, 4x3, और 1x1 हो.

उदाहरण के लिए:

"image": [
  "https://example.com/photos/1x1/photo.jpg",
  "https://example.com/photos/4x3/photo.jpg",
  "https://example.com/photos/16x9/photo.jpg"
]
instructor

दोहराया जा सकने वाला Person

अगर लागू हो, तो कोर्स के लिए शिक्षक के बारे में जानकारी.

"instructor": [{
   "@type": "Person",
   "name": "Dana A.",
   "description": "Professor at X-University",
   "image": "http://examplePerson.jpg"
}]
instructor.description Text

अगर लागू हो, तो शिक्षक और उनके क्रेडेंशियल की जानकारी.

instructor.name Text

अगर लागू हो, तो शिक्षक का नाम.

location

Text

जिस खास जगह पर कोर्स पढ़ाया जाएगा उसका नाम या पता (या दोनों).

"courseMode": "Blended",
"location": "Example High School"

कोर्स प्रोग्राम

कोर्स प्रोग्राम में बच्चों के लिए कई कोर्स होते हैं. बच्चों के लिए बने कोर्स अलग-अलग यूआरएल और लैंडिंग पेज वाले स्टैंडअलोन कोर्स होने चाहिए.

अगर आपका वेब पेज, कोर्स प्रोग्राम के तहत आता है, तो इन ज़रूरी प्रॉपर्टी को शामिल करें. (यह, Course और CourseInstance सेक्शन में लिस्ट की गई प्रॉपर्टी के अलावा हो).

ज़रूरी प्रॉपर्टी
hasPart

दोहराया जा सकने वाला Course

बच्चों के उन कोर्स की सूची जो इस प्रोग्राम में शामिल हैं.

"@context": "https://schema.org/",
"@type": "Course",
"name": "Learning Pathway: Knitting",
"url": "www.example.com/knitprogram"
// Fill the other required Course and CourseInstance properties
"hasPart": [{
   "@type": "Course",
   "name": "Intro to Knitting",
   "url": "www.example.com/knitbasics",
   "description": "Learn the basics of how to knit."
   }, {
   "@type": "Course",
   "name": "Knit a Sweater",
   "url": "www.example.com/knitsweater",
   "description": "Learn to knit an entire sweater."
}]
hasPart.name Text

बच्चों के लिए बने कोर्स का पूरा टाइटल.

hasPart.url URL

बच्चों के लिए बने कोर्स के लैंडिंग पेज पर ले जाने वाला यूआरएल.

सुझाई गई प्रॉपर्टी
hasPart.description Text

अगर लागू हो, तो बच्चे के कोर्स में क्या शामिल हैं, इस बारे में कम शब्दों में जानकारी.

  • सुझाई गई लंबाई: 240 वर्ण
  • ज़्यादा से ज़्यादा लंबाई: 500 वर्ण

Search Console की मदद से, ज़्यादा बेहतर नतीजों (रिच रिज़ल्ट) पर नज़र रखना

Search Console एक ऐसा टूल है जिसकी मदद से, आप Google Search में अपने पेज की परफ़ॉर्मेंस पर नज़र रख सकते हैं. Google Search के नतीजों में अपनी साइट को शामिल कराने के लिए, आपको Search Console में साइन अप करने की ज़रूरत नहीं है. हालांकि, इससे आपको यह समझने में मदद मिलेगी कि Google आपकी साइट को कैसे देखता है. साथ ही, इसकी मदद से, साइट की परफ़ॉर्मेंस को भी बेहतर बनाया जा सकता है. हमारा सुझाव है कि आप इन मामलों में Search Console देखें:

  1. पहली बार स्ट्रक्चर्ड डेटा इस्तेमाल करने के बाद
  2. नए टेंप्लेट जारी करने या कोड को अपडेट करने के बाद
  3. समय-समय पर ट्रैफ़िक का विश्लेषण करते समय

पहली बार स्ट्रक्चर्ड डेटा इस्तेमाल करने के बाद

जब Google, आपके पेजों को इंडेक्स कर ले, तब ज़्यादा बेहतर नतीजों (रिच रिज़ल्ट) की स्थिति वाली रिपोर्ट का इस्तेमाल करके, उन गड़बड़ियों को देखें जिन्हें ठीक करने की ज़रूरत है. आम तौर पर, मान्य आइटम की संख्या में बढ़ोतरी होगी और अमान्य आइटम की संख्या में कोई बढ़ोतरी नहीं होगी. अगर आपको स्ट्रक्चर्ड डेटा में गड़बड़ियां मिलती हैं, तो:

  1. अमान्य आइटम ठीक करें.
  2. लाइव यूआरएल की जांच करें और देखें कि गड़बड़ी ठीक हुई है या नहीं.
  3. स्थिति की रिपोर्ट का इस्तेमाल करके, पुष्टि करने का अनुरोध करें.

नए टेंप्लेट जारी करने या कोड को अपडेट करने के बाद

अपनी वेबसाइट में अहम बदलाव करने पर, स्ट्रक्चर्ड डेटा के अमान्य आइटम की संख्या में बढ़ोतरी पर नज़र रखें.
  • अगर आपको अमान्य आइटम की संख्या में बढ़ोतरी दिखती है, तो हो सकता है कि आपने ऐसा नया टेंप्लेट रोल आउट किया हो जो काम नहीं करता हो. इसके अलावा, यह भी हो सकता है कि आपकी साइट, मौजूदा टेंप्लेट से नए और खराब तरीके से इंटरैक्ट कर रही हो.
  • अगर आपको मान्य आइटम की संख्या में कमी दिखती है, यानी वह अमान्य आइटम की संख्या में बढ़ोतरी से मेल नहीं खाती है, तो हो सकता है कि अब आप पेजों में स्ट्रक्चर्ड डेटा एम्बेड नहीं कर रहे हैं. गड़बड़ी की वजह जानने के लिए, यूआरएल जांचने वाले टूल का इस्तेमाल करें.

समय-समय पर ट्रैफ़िक का विश्लेषण करना

परफ़ॉर्मेंस रिपोर्ट का इस्तेमाल करके, Google Search से आने वाले ट्रैफ़िक का विश्लेषण करें. आपको डेटा से पता चलेगा कि आपका पेज Search में, ज़्यादा बेहतर नतीजे (रिच रिज़ल्ट) के तौर पर कितनी बार दिखता है. साथ ही, यह भी पता चलेगा कि लोग उस पर कितनी बार क्लिक करते हैं और खोज के नतीजों में आपकी साइट के दिखने की औसत जगह क्या है. आपके पास इन नतीजों को Search Console API की मदद से अपने-आप देखने का भी विकल्प है.

समस्या का हल करना

अगर आपको स्ट्रक्चर्ड डेटा लागू करने या डीबग करने में कोई समस्या आ रही है, तो यहां कुछ ऐसे रिसॉर्स दिए गए हैं जिनसे आपको मदद मिल सकती है.